Latest News

भजन

इतनी शक्ति हमें देना दाता मन का विश्वास कमजोर हो न |
हम चले नेक रस्ते पे हमसे, भूलकर भी कोई भूल हो न |इतनी शक्ति.........
दूर अज्ञान के हों अँधेरे, तू हमें ज्ञान की रौशनी दे
वैर हो न किसी का किसी से , भावना मन में बदले की हो न |हम चले........
हम न सोचें हमे क्या मिला है, हम ये सोचे किया क्या है अर्पण ,
फूल खुशिओं के बांटे सभी को , सबका जीवन ही बन जय मधुबन ,
अपनी करुणा का रस तू बहा दे ,करदे पावन हर एक मन का कोना |हम चले.........



मेरी अभिलाषा

मैं तो अपना शेष जीवन यो बिताना चाहता हूँ
मिल गया मंदिर मुझे ,जिसमे है करनी आरती ,
पथ प्रदर्शित कर रही ,मेरी ये सेवा भारती |
माँ भारती के चरणो में ,मस्तक नवाना चाहता हूँ ||मैं तो......
धूनी रमा के बैठना ,मुझको गवारा है नही ,
दिन रात माला फेरना ,मुझको तो प्यारा है नही |
बन्दों की सेवा से ही ,मैं बस राम पाना चाहता हूँ ||मैं तो......
है नही मुझको तमन्ना , मोक्ष की या स्वर्ग की ,
आनंद पाऊं सेवा से निर्धन और पुिछड़े वर्ग की ।
मैं तो समरसता के पथ पैर बढ़ना चाहता हूँ ||मैं तो......

Our Team

Dr. Bhudh Singh

President

C-7, OPP. Maharishi school, ashok vihar, phase-2, Gurgaon 9971802274

Sh. Naresh Kumar

General Secretary

M/s Madan Lal & co., Main Bazar, Shahbad, (Kurukshetra) 9416369973

Sh. Satish Kumar

Secretary

House No. 543, Gali No. 2, Post Box-14 , Mandi Dabwali-125104 9416106312

Sh. Chander Parkash

Audit Officer

21-A, Purshotam Garden, Kunjpura Road, Karnal-132001___ 9466027293

Sh. Baldev Raj

Member

Madhav Kunj, Hudda Complex, Rohtak____ 9416051368

प्रार्थना - हंस वाहिनी

हे हंस वाहिनी , ज्ञानदायिनी , अम्ब विमलमति दे । अम्ब विमलमति दे|
जग सिरमौर बनाएं भारत ,वह बल विक्रम दे |अम्ब विमलमति दे ।
साहस शील ह्रदय में भर दे , जीवन त्याग तपोमय कर दे ,
संयम ,सत्य ,स्नेह का वर दे ,स्वावभिमान भर दे |हे हंस वाहिनी...........
लव कुश, ध्रुव , प्रह्लाद बने हम , मानवता का त्रास हरे हम ,
सीता ,सावित्री , दुर्गा माँ ,फिर घर घर भर दे ॥ हे हंस वाहिनी ..........